चीन-भारत संबंधों की डोर मजबूत करेगी हिंदी पत्रिका ‘समन्वय हिंची’

2019-01-08 15:39:46
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn


चीन-भारत संबंधों की डोर मजबूत करेगी हिंदी पत्रिका ‘समन्वय हिंची’

चीन-भारत संबंधों की डोर मजबूत करेगी हिंदी पत्रिका ‘समन्वय हिंची’

हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार के उद्देश्य से चीन में एक हिंदी पत्रिका का प्रकाशन हो रहा है।‘समन्वय हिंची’ नामक इस पत्रिका में भारतीय एवं चीनी विद्वानों, लेखकों, अध्यापकों, पत्रकारों एवं विद्यार्थियों की चीन और भारत के साहित्य, संस्कृति, उद्योग, विज्ञान, तकनीक, व्यापार सहित तात्कालिक महत्व के सामाजिक विषयों पर लेख, यात्रा संस्मरण, कहानियां, फीचर आदि रचनाएं शामिल की गयी हैं। जिसमें चीन की महिलाएं, चीन के खेल, चीन में ट्रेन, योग, चीन में हिंदी अध्ययन, चाईना रेडियो, सांस्कृतिक आदान प्रदान, सांस्कृतिक विभिन्नताएँ और भारत चीन के रिश्तों से जुड़े कई तरह के लेख हैं। इसके साथ ही पत्रिका में दो उपन्यास अंश भी शामिल किए गए हैं। वहीं चीन के विभिन्न शहरों के परिचयात्मक और निजी अनुभवों से जुड़े आलेख और भारतीय संस्थाओं, भारतीय कॉन्सुलेट शंघाई की गतिविधियों को भी पत्रिका में स्थान दिया गया है।

12MoreTotal 2 pagesNext

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories