टिप्ण्णी : चीन सुधार को गहरा करता रहेगा

2018-12-21 20:39:06
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चीन में सुधार व खुलेपन की 40वीं वर्षगांठ मनाते समय अंतर्राष्ट्रीय समुदाय में फिर एक बार यह चर्चा का विषय बना है कि पिछले 40 सालों में चीन ने आखिर क्या किया है। अधिकांश लोगों ने विश्लेषण के बाद यह परिणाम निकाला कि मेहनत, नवाचार, बुद्धिमता आदि से चीन में उपलब्धियां हासिल हुई हैं। लेकिन उन्होंने यह नहीं देखा कि देश के आर्थिक व सामाजिक विकास पर चीन का एक स्पष्ट खाका है और चीनी लोग इसके अनुसार कदम ब कदम आगे बढ़ रहे हैं।

चीन का सुधार व खुलापन ग्रामीण सुधार से शुरू हुआ। 1982 से 2018 के बीच सत्तारुढ़ पार्टी सीपीसी पार्टी का हरेक केंद्रीय नम्बर एक दस्तावेज चीनी ग्रामीण सुधार व विकास से संबंधित है, जो हर साल एक बार जारी किया जाता है। विदेशों के लिए खुलने का कदम तो दक्षिण चीन के क्वांगतोंग प्रांत के शनचन से शुरू हुआ है। पहले शनचन एक प्रोसेसिंग केंद्र था, अब वह विश्व नवाचार केंद्र और उच्च विज्ञान व तकनीक का अध्ययन केंद्र बन गया है।

ग्रामीण सुधार और शहरी सुधार चीन के सुधार व खुलेपन की नीति के लागू होने के पिछले 40 सालों में दो उज्ज्वल चार्टर हैं। इस प्रक्रिया में चीन सरकार ने एक के बाद एक पंचवर्षीय योजनाओं से देश और समाज के विकास का खाका तैयार किया। गत वर्ष के अक्तूबर माह में सीपीसी पार्टी की 19वीं कांग्रेस में यह तय किया गया है कि चीन 2020 में तमाम खुशहाली समाज का निर्माण करेगा, 2035 में बुनियादी तौर पर समाजवादी आधुनिकीकरण को साकार करेगा और इस शताब्दी के मध्य तक एक समृद्ध, लोकतांत्रिक, सभ्यता और सामंजस्यपूर्ण सुन्दर समाजवादी आधुनिक शक्तिशाली देश का निर्माण करेगा।

सुधार व खुलेपन की सही दिशा में चीन आगे विकास कर रहा है। किसी एक देश के लिए सुधार एक चिरस्थायी संघर्ष है। चीन ने क्रमशः 40 सालों के लिए सुधार व खुलेपन की नीति लागू की। यह चीनी राष्ट्रीय तंत्र की श्रेष्ठता है, साथ ही चीनी आम जनता का सौभाग्य भी है। अनिश्चित अंतर्राष्ट्रीय पर्यावरण की स्थिति में यह अति मूल्यवान है। चीन का विकास विश्व आर्थिक विकास को स्थिर बनाने का इंजन बन चुका है।



शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories