टिप्पणीः बहुध्रुवीय विश्व के लिए पारस्परिक लाभ और समान जीत की खिड़की खोली गयी

2018-12-06 16:49:56
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 6 दिसंबर को यूरोप और लैटिन अमेरिका के चार देशों की राजकीय यात्रा करने और जी-20 शिखर बैठक में भाग लेने के बाद पेइचिंग लौटे। अपनी यात्रा के अंतिम पड़ाव पुर्तगाल में शी चिनफिंग ने देशी विदेशी मीडिया को बताया कि नौ दिनों की यात्रा में उन्हें गहराई से महसूस हुआ कि विश्व के विभिन्न देशों की जनता विश्व शांति और स्थिरता ,राष्ट्रीय विकास और समृद्धि और खुशहाल जीवन की उम्मीद करती है। विश्व में तरह तरह के सवाल और चुनौतियां मौजूद हैं, पर चीन हमेशा पारस्परिक सम्मान, समानता, सलाह-मशविरे, शांति और विकास, सहयोग और समान जीत पर कायम रहेगा और विभिन्न देशें के साथ मानव समुदाय का साझा भविष्य बनाएगा।

दुनियाभर के मुद्दे और चुनौतियों को विभिन्न देशों के बीच सलाह मशविरे की जरूरत है। शी की इस साल की अंतिम विदेश यात्रा में चीन ने पहले की तरह गंभीरता से विभिन्न देशों की आवाज़ सुनी और कठिनाई दूर करने के लिए सलाह मशविरा किया। चीन ने पहले की तरह बहुपक्षवाद का समर्थन किया, सहयोग और साझी जीत की वकालत की। द्विपक्षीय और बहुपक्षीय मौके में चीन के सर्वोच्च नेता ने पहले की तरह अपना दृष्टिकोण और जवाबदेही दिखाई। इससब ने जटिल अंतरराष्ट्रीय परिस्थिति में स्थिर तत्व और सकारात्मक ऊर्जा डाली है।

चीन और स्पेन, अर्जेंटीना, पनामा, पुर्तगाल के बीच क्रमशः जारी संयुक्त बयान या प्रेस विज्ञप्ति में एक पट्टी एक मार्ग और उपरोक्त चार देशों की विकास रणनीति को जोड़ना बार बार नज़र आता है। इस ढांचे में दोनों देशों द्वारा तीसरे पक्ष के बाज़ार का सहयोग लेकर साझी जीत को पूरा करना एक सर्वमान्य नया मॉडल बन गया है।

वर्ष 2018 को विदा देने के समय राष्ट्रपति शी ने इस यात्रा से एक पट्टी एक मार्ग निर्माण को आगे बढ़ाया, साझेदारी और साझेदारी की भावना गहरायी और वैश्विक प्रबंधन प्रक्रिया में सक्रियता से भाग लिया।

(वेइतुंग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories