वैश्विक एयरोस्पेस उद्योग के विकास में चीन एक प्रमुख बल बन रहा है : यूरो कंसल्ट

2018-12-06 11:24:32
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

5 दिसंबर को पेइचिंग में यूरो कंसल्ट द्वारा जारी रिपोर्ट के मुताबिक भावी 5 सालों में वैश्विक वाणिज्यिक एयरोस्पेस का विस्तार जारी रहेगा। चीन वैश्विक एयरोस्पेस उद्योग के विकास में एक प्रमुख बल बन रहा है।

5 दिसंबर को पेइचिंग में आयोजित छठे एयरोस्पेस अंतर्राष्ट्रीयकरण विकास फोरम में यूरो कंसल्ट के सीईओ पैकोम रेविलॉन ने यह टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि चीन का एयरोस्पेस उद्योग बहुत तेजी से विकसित हो रहा है। तकनीकी नवाचार, लॉन्च किये गये उपग्रहों की संख्या और उपग्रह उद्योग की पारिस्थितिक तंत्र तेजी से बढ़ रहे हैं। चीन कई देशों के अंतरिक्ष एजेंसियों के साथ सहयोग कर रहा है। अंतर्राष्ट्रीयकरण बहुत तेजी से हो रही है।

आंकड़ों के मुताबिक गत वर्ष में वैश्विक एयरोस्पेस की कुल अर्थव्यवस्था 383.5 अरब अमेरिकी डॉलर थी, जिसमें से वाणिज्यिक एयरोस्पेस बाजार का 308.5 अरब अमेरिकी डॉलर का हिस्सा था, जो एयरोस्पेस उद्योग में आर्थिक योगदान का मुख्य बल बन गया।

यूरो कंसल्ट द्वारा उसी दिन प्रकाशित "सैटेलाइट सर्विसेज आउटलुक" के मुताबिक हाल के वर्षों में सरकारी विभागों द्वारा एयरोस्पेस निवेश को कसने के मुकाबले वैश्विक वाणिज्यिक एयरोस्पेस का निरंतर और तेजी से विकास हो रहा है।

(नीलम)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories