चीन और रूस के प्रधानमंत्रियों के बीच 23वीं नियमित भेंटवार्ता आयोजित

2018-11-08 14:41:38
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चीनी प्रधानमंत्री ली खछ्यांग ने 7 नवंबर को सुबह पेइचिंग के जन वृहद भवन में रूसी प्रधानमंत्री दिमित्री मेदवेदेव के साथ चीन और रूस के प्रधानमंत्रियों के बीच 23वीं नियमित भेंटवार्ता की अध्यक्षता की।

चीनी उप प्रधानमंत्री, चीन रूस निवेश सहयोग कमेटी, ऊर्जा सहयोग कमेटी के चीनी अध्यक्ष हान चेंग ने इस में भी भाग लिया।

ली खछ्यांग ने कहा कि चीन और रूस एक दूसरे के सबसे बड़े पड़ोसी देश होने के साथ एक दूसरे के विकास में महत्वपूर्ण अवसर भी प्रदान करते हैं। दोनों देशों के राष्ट्रपतियों ने कई बार सफल मुलाकात की, दोनों देशों के बीच सर्वांगीण रणनीतिक साझेदारी संबंध एक उच्च स्तर पर आगे बढ़ रहे हैं। यह दोनों देशों और दोनों देशों की जनता के हितों के अनुकूल है, विश्व में स्थिरता  और अधिक शक्ति का संचार होगा। चीन रूस के साथ राजनीतिक और रणनीतिक विश्वास को गहराना और चौतरफा तौर पर सहयोग का विस्तार करना चाहता है। ताकि समान रूप से विश्व शांति, स्थिरता और विकास की रक्षा के लिए योगदान किया जा सके।

ली खछ्यांग ने कहा कि इस वर्ष से चीन और रूस के बीच आर्थिक और व्यापारिक सहयोग का तेज विकास हो रहा है। इस वर्ष में द्विपक्षीय व्यापार राशि एक खरब अमेरिकी डॉलर से भी अधिक होने की संभावना होगी। भविष्य में सहयोग की बड़ी निहित शक्ति है। चीन और रूस समान रूप से विश्व व्यापार संगठन के बुनियादी सिद्धांत और भावना, मुक्त व्यापार और बहुपक्षवाद की रक्षा करना चाहता है।

दिमित्री मेदवेदेव ने कहा कि रूस और चीन के बीच उच्च स्तरीय विश्वास बनाए रखेगा, दोनों देशों के बीच सर्वांगीण रणनीतिक साझेदारी संबंध निरंतर गहरे हो रहे हैं। रूस चीन के साथ उच्च स्तरीय और विभिन्न स्तर की आवाजाही घनिष्ठ करना चाहता है, व्यवहारिक सहयोग करना चाहता है, ताकि व्यापार की रकम, दो तरफा निवेश बढ़ाया जा सके।

दोनों प्रधानमंत्रियों ने समान रुचि वाले अंतर्राष्ट्रीय और क्षेत्रीय मामलों पर गहन रूप स विचार-विमर्श किया।

(वनिता)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories