संवाददाताओं से मिले ली खछ्यांग और दिमित्री मेदवेदेव

2018-11-08 14:36:56
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

 चीनी प्रधानमंत्री ली खछ्यांग ने 7 नवंबर की सुबह पेइचिंग के जन वृहद भवन में रूसी प्रधानमंत्री दिमित्री मेदवेदेव के साथ चीन और रूस के प्रधानमंत्रियों के बीच 23वीं नियमित भेंटवार्ता की। इस के बाद उन्होंने एक साथ संवाददाताओं से मुलाकात की।

ली खछ्यांग ने भेंटवार्ता में प्राप्त उपलब्धियों का परिचय देते हुए कहा कि इस बार की भेंटवार्ता व्यवहारिक और कारगर रही। दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों के बीच भेंटवार्ता लगातार 22 वर्षों से आयोजित हो रही है, जिससे दोनों देशों के बीच सर्वांगीण रणनीतिक साझेदारी संबंध और विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग का उच्च स्तर और स्थिरता दिखाई गई। यह दोनों देशों को लाभ पहुंचाने के साथ क्षेत्रीय और विश्व शांति और विकास के अनुकूल है।

ली खछ्यांग ने कहा कि दोनों देशों का अर्थतंत्र एक-दूसरे का बड़ा पूरक है, चौतरफा तौर पर सहयोग के विकास की बड़ी गुंजाइश भी है। दोनों देश व्यापार और पूंजी निवेश, ऊर्जा, तकनीकी सृजन, क्षेत्रीय सहयोग आदि क्षेत्रों में आपसी सहयोग को आगे बढ़ाने पर सहमत हुए।

ली खछ्यांग ने जोर देते हुए कहा कि दोनों पक्षों ने वर्तमान अंतर्राष्ट्रीय स्थिति पर विचार-विमर्श भी किया। दोनों देश इस पर सहमत हुए कि आर्थिक वैश्वीकरण समय की प्रवृत्ति है, व्यापार और निवेश उदारीकरण और सुविधा पर कायम रहेगा, वैश्विक और क्षेत्रीय आर्थिक एकीकरण को आगे बढ़या जाए।

दिमित्री मेदवेदेव ने कहा कि रूस-चीन संबंधों का गहन रूप से विकास हो रहा है, विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग घनिष्ठ है, द्विपक्षीय व्यापार रकम निरंतर बढ़ रही है। रूस चीन के साथ बहुपक्षीय व्यापार व्यवस्था के अधिकार की रक्षा करना चाहता है, यूरेशियन इकोनॉमिक यूनियन और "एक पट्टी एक मार्ग" से जोड़ने में बढ़ावा देना चाहता है।

(वनिता)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories