शी चिनफिंगः चीन का अर्थतंत्र उच्च गुणवत्ता वाले विकास के रास्ते में चलता रहेगा।

2018-11-05 15:01:56
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/4

5 नवम्बर को चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने शांगहाई में पहले चीन अंतर्राष्ट्रीय आयात एक्सपो के उद्घाटन समारोह में भाग लिया और साथ मिलकर नवीनीकरण और समावेशी खुलेपन विश्व अर्थतंत्र का सहनिर्माण करें नामक थीम भाषण दिया।

अपने भाषण में उन्होंने कहा कि आयात एक्सपो का आयोजन चीन द्वारा नये दौर के उच्च स्तरीय खुलेपन का महत्वपूर्ण निर्णय है, जो चीन द्वारा विश्व के उन्मुख बाजार को खोलने का अहम कदम है। यह चीन द्वारा बहुपक्षीय व्यापारी तंत्र का समर्थन करने और स्वतंत्र व्यापार के विकास को आगे बढ़ाने का रुख है, जो चीन द्वारा खुलेपन विश्व अर्थतंत्र के निर्माण को आगे बढ़ाने और आर्थिक भूमंडलीकरण का समर्थन करने की यथार्थ कार्यवाई है।

उन्होंने बल देते हुए कहा कि आर्थिक वैश्विकरण अपरिवार्य ऐतिहासिक रूझान है ।खुलेपन और सहयोग अंतरराष्ट्रीय आर्थिक व व्यापरिक जीवंत शक्ति बढ़ाने की महत्वपूर्ण प्रेरणा है ,विश्व आर्थिक स्थिरता और बहाली बढ़ाने की वास्तविक मांग है और मानव समाज की निरंतर प्रगति की युगांतर मांग है।

शी चिनफिंग ने शांगहाई में कहा कि आगामी 15 सालों में चीन 400 खरब अमेरिकी डॉलर मूल्य वाले उत्पादों और सेवा का आयात करेगा। चीन आयात की निहित शक्ति को प्रेरित करने, बाजार के प्रवेश की शर्तों को ढीला करेगा, अंतर्राष्ट्रीय स्तरीय व्यापार माहौल की रचना करेगा, खुलेपन को गहरा करेगा, बहुपक्षीय व द्विपक्षीय सहयोग के गहरे विकास को आगे बढ़ाएगा। चीन निरंतर खुलेपन का विस्तार करता रहेगा।

चीन के कदमों में निम्न कदम भी शामिल हैं। चीन टैरिफ को और कम करेगा, आयात प्रक्रिया में खर्चे की कटौती करेगा, सीमापार ई-कॉर्मस आदि नये उद्योगों व नये फार्मूले के विकास को तेज़ करेगा, वित्तीय उद्योग के खुलेपन का स्थिर विस्तार करेगा, सेवा उद्योग के खुलेपन को आगे बढ़ाएगा, शिक्षा व चिकित्सा आदि क्षेत्रों में विदेशी पूंजी के अनुपात को बढ़ाएगा इत्यादि। शी चिनफिंग ने कहा कि चीन क्षेत्रीय तमाम आर्थिक साझेदारी संबंधों के समझौते पर यथाशीघ्र ही हस्ताक्षर करेगा, चीन-यूरोप पूंजी समझौते की वार्ता को तेज़ करेगा और चीन-जापान-दक्षिण कोरिया स्वतंत्र व्यापार क्षेत्र की वार्ता प्रक्रिया को तेज़ करेगा।

उनका मानना है कि चीन में अर्थतंत्र का स्वस्थ व स्थिर विकास की स्थिति में कोई परिवर्तन नहीं है। चीन द्वारा उच्च गुणवत्ता वाले विकास के उत्पादन का समर्थन करने वाली शर्तों में कोई बदलाव नहीं आया है। चीन में अर्थतंत्र के दीर्घकालीन स्थिर विकास की प्रवृत्ति में कोई परिवर्तन नहीं आया है। देश में समग्र नियंत्रण क्षमता निरंतर मजबूत की जाती है। चीन द्वारा सुधार को गहराने में विकास की प्रेरणा शक्ति को निरंतर फैलायी जाती है। चीन का अर्थतंत्र अवश्य ही उच्च गुणवत्ता वाले विकास के रास्ते में चलता रहेगा।

(श्याओयांग)

शेयर