अपने न्यायपूर्ण हितों की रक्षा करने के लिए चीन ने जवाबी कदम उठाया

2018-10-12 11:22:07
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

 हाल में अमेरिका ने कहा कि व्यापारिक विवाद में चीन के जवाबी कदमों ने अमेरिका के अंदरूनी मामलों में हस्तक्षेप किया है। इसकी चर्चा में चीनी वाणिज्य मंत्रालय के प्रेस प्रवक्ता काओ फंग ने 11 अक्तूबर को कहा कि यह चीन द्वारा खुद के हितों की रक्षा करने और बहुपक्षीय व्यापारिक तंत्र की रक्षा करने के लिए चीन द्वारा दी गयी तर्कसंगत और संयम प्रतिक्रिया है। चीन का अमेरिका के अंदरूनी मामलों में हस्तक्षेप करने का इरादा नहीं है।

काओ फंग ने एक नियमित संवाददाता सम्मेलन में जोर दिया कि अमेरिका ने व्यापारिक विवाद छेड़ा और निरंतर तीव्र बनाता रहा है। द्विपक्षीय आर्थिक व व्यापारिक सहयोग की रक्षा करने के लिए चीन व्यापारिक लड़ाई नहीं लड़ना चाहता है। चीन द्वारा द्विपक्षीय आर्थिक व्यापारिक संबंधों के स्वस्थ विकास की रक्षा करने के रुख में कोई बदलाव नहीं आया है। साथ ही चीन द्वारा खुद के न्यायपूर्ण हितों की रक्षा करने का संकल्प भी नहीं बदला है।

अमेरिका ने निंदा की कि चीन द्वारा व्यापारिक विवाद में धमकी देने के तरीके से अमेरिकी वाणिज्य जगत के प्रतिनिधियों पर असर पड़ा है। इसकी चर्चा में काओ फंग ने कहा कि चीन अमेरिकी कारोबारों और उद्यमियों का स्वागत करता है। विश्वास है कि उनके पास अपने सही निर्णय होंगे।

काओ फंग ने कहा कि विश्व की पहली दो बड़ी आर्थिक इकाइयां होने के नाते चीन और अमेरिका के बीच कुछ हद तक की प्रतिस्पर्धा सामान्य   बात है। चीन और अमेरिका के बीच राजनयिक संबंध स्थापना के पिछले 40 सालों में हालांकि द्विपक्षीय संबंध डांवाडोल होते रहे हैं। फिर भी दोनों देश वार्ता और सलाह मशविरे के जरिए मतभेदों का अच्छी तरह हल कर सकते थे। आशा है कि अमेरिका स्थिति को गलत न समझकर समानता और आपसी विश्वास व सम्मान के आधार पर वार्तालाप के जरिए द्विपक्षीय आर्थिक व व्यापारिक मतभेदों का समाधान करेगा।

(श्याओयांग)

 

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories