चीन के गांव में गरीबी उन्मूलन कार्यशाला

2018-09-05 15:08:34
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
3/6

चीन के जियांग्ज़ी प्रांत की वान-आन काउंटी के माओपिंग गांव में ग्वांगपुडा सौर इलेक्ट्रॉनिक्स फैक्टरी की "गरीबी उन्मूलन कार्यशाला" अप्रैल 2017 में स्थापित की गई थी। यह कार्यशाला वान-आन काउंटी में "प्लांट-टू-ग्राम" परिशुद्धता गरीबी उन्मूलन परियोजनाओं में से एक है, जो मुख्य रूप से सौर फोटोवोल्टिक उत्पादों का उत्पादन करती है।

वान-आन काउंटी ने स्थानीय श्रम बल और कृषि विशेष उत्पादों के प्रचुर संसाधनों के आधार पर बाहरी प्रतिभाओं को आकर्षित करके राशि, परियोजनाओं और अनुभव को लाया, जिससे सामूहिक अर्थव्यवस्था की आय में वृद्धि हुई और शारीरिक उद्योगों में भी तेजी से गरीबी को समाप्त कर दिया है।

सूत्रों के मुताबिक, स्थानीय सरकार ने ग्वांगपुडा सौर इलेक्ट्रॉनिक्स फैक्ट्री की गरीबी उन्मूलन कार्यशाला के लिए 40 हजार युआन का निवेश किया। कारखाने के निदेशक को 1 लाख युआन का उद्यमी छूट ऋण भी मिला। अब इस गरीबी उन्मूलन कार्यशाला में लगभग 30 कर्मचारी हैं और प्रति व्यक्ति प्रति माह 2500-3000 युआन का वेतन है। इसने गांव में अधिशेष श्रम बल की रोजगार समस्या को प्रभावी ढंग से हल किया गया है। यह परियोजना रोजगार को सुलझाने और गरीबी से छुटकारा पाने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है।

(नीलम)

शेयर