शी चिनफिंग ने एससीओ समुदाय के साझे भविष्य का निर्माण करने की अपील की

2018-06-10 19:37:29
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/4

10 जून को शांगहाई सहयोग संघगठन(एससीओ) की 18वीं शिखर बैठक पूर्वी चीन के शानतुंग प्रांत के छिंगताओ शहर में आयोजित हुई। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने इस बैठक की अध्यक्षता की और महत्वपूर्ण भाषण दिया। एससीओ के सदस्य देशों के नेता ,चिरस्थाई संस्था के जिम्मेदार व्यक्ति ,पर्यवेक्षक देशों के नेता और यूएन समेत अंतरराष्ट्रीय संगठनों के प्रमुख इस में उपस्थित हुए । 

शी चिनफिंग ने उद्घाटन समारोह में विभिन्न पक्षों द्वारा एक साल में चीन का अध्यक्ष देश बनने के दौरान दिये गये समर्थन और सहयोग के प्रति आभार व्यक्त किया ।उन्होंने भारतीय प्रधान मंत्री और पाक राष्ट्रपति का पहली बार एससीओ सदस्य देशों के नेता की हैसियत में इस बैठक में भाग लेने का स्वागत किया ।

इस के बाद शी चिनफिंग ने शांगहाई भावना का प्रचार कर साझा भविष्य का निर्माण करो विषय भाषण दिया।

अपने भाषण में उन्होंने एससीओ की स्थापना के 17 साल में मिली बड़ी उपलब्धियों की प्रशंसा की और विभिन्न पक्षों से शांगहाई भावना का प्रचार जारी रखकर युग की कठिन समस्याओं का समाधान करने और खतरे दूर करने, चुनौती का सामना करने की अपील की। उन्होंने आशा प्रकट की कि सदस्य देशों के नेता शांगहाई भावना के तहत एक ही नाव पर सवार होकर सहयोग कर एससीओ समुदाय के साझा भविष्य का निर्माण करेंगे।

उन्होंने कहा कि एससीओ ने ऐसी रचनात्मक साझेदारी स्थापित की है, जो गठबंधन और मुकाबला नहीं करता और किसी तीसरे पक्ष के खिलाफ भी नहीं है। यह अंतरराष्ट्रीय संबंधों के सिद्धांत और अभ्यास का महत्वपूर्ण सृजन है ,जिसने क्षेत्रीय सहयोग का नया मॉडल रचा। एससीओ हमेशा ही ओत-प्रोत जीवन शक्ति को कायम रखकर सहयोग की प्रेरणा शक्ति को मज़बूत करेगा। इसका मूल कारण है एससीओ ने आपसी विश्वास, आपसी लाभ, समानता, सलाह मश्विरा, विविधतापूर्ण सभ्यता का सम्मान करने और साझे विकास की खोज करने की शांगहाई भावना प्रस्तुत की है। उनका मानना है कि शांगहाई भावना सभ्यताओं में मुठभेड़, शीत युद्ध की विचारधारा और शून्य जमा खेल जैसी पुरानी विचारधारा को नहीं अपनाती है। इसने अंतर्राष्ट्रीय संबंधों में नया चार्टर जोड़ा है और इसके अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को दिन ब दिन व्यापक मान्यता भी मिल रही है।

उन्होंने कहा कि हमें हाथों में हाथ मिलाकर चिरस्थाई शांति, आम सुरक्षा, समान समृद्धि, खुला और समावेशी, स्वच्छ और सुंदर विश्व की ओर बढ़ना चाहिए।

उन्होंने कहा कि हमें आतंकवाद, उग्रवाद और अलगाववाद पर प्रहार करने वाले वर्ष 2019-21 सहयोग दस्तावेज़ को सक्रियता से लागू करने, शांति कार्य समेत संयुक्त आतंकवाद विरोधी अभ्यास और सुरक्षा सहयोग मजबूत करना चाहिए।

एससीओ सदस्य देशों के समान विकास का मज़बूत इंजन निर्मित करने की चर्चा में शी चिनफिंग ने कहा कि हमें अपनी अपनी विकास रणनीति का जुड़ाव और एक पट्टी एक मार्ग निर्माण बढ़ाना, क्षेत्रीय व्यापारिक सरलीकरण को गति देना और अंतरराष्ट्रीय मार्ग यातायात के सलरीकरण संधि समेत सहयोग दस्तावेजों के कार्यांवयन में तेज़ी लाना चाहिए। चीन विभिन्न पक्षों के शांगहाई में होने वाले पहले चीन अंतरराष्ट्रीय आयात मेले में भाग लेने का स्वागत करता है। चीन सरकार छिंगताओ में चीन—एससीओ क्षेत्रीय आर्थिक और व्यापारिक सहयोग मॉडल ज़ोन स्थापित करने का समर्थन करता है। चीन एससीओ बैंक कंसोर्टियम के ढांचे में 30 अरब युवान का विशेष कर्ज़ स्थापित करेगा।

विभिन्न पक्षों ने सर्वसम्मति से व्यक्त किया कि वे शांगहाई भावना का पालन कर विभिन्न पक्षों के व्यावहारिक सहयोग को मजबूत बनाएंगे ,विश्व आर्थिक तंत्र को संपूर्ण बनाएंगे ,बहुपक्षीय व्यापार व्यवस्था का विकास करना ,अंतरराष्ट्रीय कानून के ढांचे के तहत ज्वलंत मुद्दों का समाधान करेंगे ,मानव समुदाय के साझे भविष्य को बढाएंगे ।एक पट्टी एक मार्ग प्रस्ताव को फिर व्यापक स्वागत और समर्थन मिला । (वेइतुंग)

शेयर