सांस्कृतिक आत्मविश्वास को आगे बढ़ाए- सीपीपीसीसी सदस्य

2018-03-19 11:05:21
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/3
जैकी छन संवाददाता को इन्टरव्यू देते हुए

चीनी कम्युनिस्ट पार्टी(सीपीसी) की केंद्रीय समिति के महासचिव शी चिनफिंग ने सीपीसी की 19वीं राष्ट्रीय कांग्रेस में अपनी रिपोर्ट में कहा कि सांस्कृतिक आत्मविश्वास एक देश और एक जाति के विकास में अधिक बुनियाद, अधिक गहरी और अधिक स्थाई शक्ति है। वहीं मार्च 2018 में आयोजित 13वीं चीनी राष्ट्रीय जन प्रतिनिधि सभा के पहले पूर्णाधिवेशन में प्रधानमंत्री ली खछ्यांग द्वारा दी गई सरकारी कार्य रिपोर्ट में भी बल देते हुए कहा गया कि चीनी विशेषता वाले समाजवाद में सांस्कृतिक समृद्धि के आधार पर राष्ट्रीय उत्थान की शक्ति को एकत्र किया जाए। तो श्रेष्ठ चीनी संस्कृति का प्रसार कैसे किया जा सकता है?और राष्ट्रीय सांस्कृतिक आत्मविश्वास को कैसे उन्नत किया जाएगा?हाल में हमारे संवाददाता ने अभी-अभी पेइचिंग में संपन्न चीनी जन राजनीतिक सलाहकार सम्मेलन की 13वीं राष्ट्रीय समिति के पहले पूर्णाधिवेशन में भाग लेने वाले सांस्कृतिक जगत से आए कुछ सदस्यों के साथ इन्टरव्यू लिया। सांस्कृतिक आत्मविश्वास के बारे में उन्होंने अपने-अपने विचार व्यक्त किये।

चीनी फिल्म स्टार जैकी छन के विचार में देश, परिवार और प्रकृति का संरक्षण करने की भावना हरेक चीनी नागरिक के खून में संचार हुई है। चीनी कहानी को अच्छी तरह सुनाने और अच्छी रचना बनाने से सांस्कृतिक आत्मविश्वास जरूर उन्नत होगा। उन्होंने कहा“सांस्कृतिक आत्मविश्वास खुद से आता है। मैं जैसा हूँ, इतने सालों में अपनी फिल्मों की अच्छी तरह शूटिंग की। मेरी फिल्मों को दुनिया भर में लोकप्रियता हासिल हुई। इस तरह मेरा आत्मविश्वास बढ़ा। अगर तुम्हारी रचना अच्छी है, तो लोगों की मान्यता मिलेगी। मेरा विचार है कि चीनी कहानी को अच्छी तरह सुनाया जाए, तो आत्मविश्वास जरूर मज़बूत हो सकेगा।”

वहीं चीनी फिल्म निर्देशक चंग श्याओलोंग ने कहा कि सांस्कृतिक आत्मविश्वास को उन्नत करने की कुंजी अंतरराष्ट्रीय दृष्टि के आधार पर अधिक और अच्छी चीनी संस्कृति और रचनाओं को बाहरी लोगों तक पहुंचाया जाना है। उन्होंने कहा:“दुनिया में हमारी रचना को कैसे पहुंचाया जाएगा?मेरा विचार है कि हमें अंतरराष्ट्रीय दृष्टि के आधार पर अंतरराष्ट्रीय विषय वाली रचना बनाना चाहिए। मूल समाजवादी मूल्य मानव जाति का है, जिसमें न्याय, लोकतंत्रत, समानता और स्वतंत्रता एक की हैं। इस प्रकार की रचना को विश्व में लोकप्रियता मिल सकेगी।”   

चोंगयोंग च्वोमा तिब्बती जाति की सीपीपीसीसी सदस्य हैं। वे तिब्बती जातीय क्षेत्र में ही नहीं, समूचे चीन में बहुत लोकप्रिय गायिका भी हैं। उन्होंने कहा कि सांस्कृतिक विकास और सांस्कृतिक आत्मविश्वास में अल्प-जातीय संस्कृति का महत्वपूर्ण स्थान है। उन्होने विदेश में अपने अभिनय का अनुभव बताते हुए कहा:“सांस्कृतिक समृद्धि और विकास के दौरान अल्प जातियों की पारंपरिक संस्कृति को नहीं छोड़ा जाना चाहिए। एक बार, मैं वसंतोत्सव के उपलक्ष्य में प्रदर्शन के लिए अमेरिका गयी। गीत सुनाने के बाद एक अमेरिकी कर्मचारी ने मुझसे कहा कि आपकी आवाज़ दुनिया भर में दूसरों से अलग है। आप क्यों इतनी ऊंची आवाज़ में इतना मधुर गीत गाती हैं?उस वक्त मुझे बहुत गर्व हुआ। मेरा विचार है कि यह है हमारे महासचिव शी चिनफिंग द्वारा कहा गया सांस्कृतिक आत्वविश्वास ही है।”

 जैकी छन ने कहा कि आज हमारी सफलता प्राप्त करने का कारण समूचे चीनी लोगों का एक शक्ति से एक ही काम करना है। पिछले 10 सालों में चीन में जमीन आसमान का परिवर्तन आया है। भविष्य में चीन और शक्तिशाली होगा। हरेक चीनी अपना काम को अच्छी तरह करने से हम और बलवान होंगा और हमारा आत्मविश्वास और बढ़ सकेगा।

(श्याओ थांग)

शेयर