खबरें

चीन में छात्रों के स्कूल लौटने का सिलसिला जारी

हाल के दिनों में चीन में छात्रों के स्कूल लौटने का सिलसिला जारी है। गौरतलब है कि मई के मध्य से चीनी शिक्षा मंत्रालय महामारी की वैज्ञानिक और सटीक रोकथाम और नियंत्रण का पालन करने के साथ सभी स्कूलों में कक्षाओं की पूर्ण बहाली को बढ़ावा दे रहा है। छात्रों के स्कूल लौटने पर महामारी निवारण के कड़े आयोजनों के साथ उनके लिए मनोवैज्ञानिक दबाव को दूर करने का आयोजन भी किया गया है।

बांग्लादेश : दो महीने के लॉकडाउन के बाद आर्थिक गतिविधियां धीरे-धीरे शुरू

कोविड-19 प्रकोप के बाद दो महीने से अधिक समय तक निलंबित रहने के बाद बांग्लादेश में रविवार को एक सीमित पैमाने पर कार्यालय, व्यवसाय और परिवहन व्यवस्था फिर से शुरू हुई।

चीन और भारत के विद्वानों के बीच महामारी के बाद विकास पर क्लाउड संगोष्ठी का आयोजन

मुंबई स्थित चीनी जनरल कांसुलेट ने हाल ही में शांगहाई अंतर्राष्ट्रीय अध्ययन संस्थान तथा भारतीय थिंक टैंक द गेटवे हाउस के साथ महामारी के बाद विकास पर क्लाउड संगोष्ठी का आयोजन किया। दोनों देशों के विद्वानों और राजनयिकों ने ऑनलाइन संगोष्ठी में भाग लिया।

चीन का गरीबी उन्मूलन अनुभव दुनिया के लिए लाभदायक :ब्रिटिश स्कॉलर

ब्रिटेन के ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के चाइना सेंटर के प्रोफेसर राणा मित्तर ने हाल ही में कहा कि चीन का गरीबी उन्मूलन का अनुभव दुनिया के लिए सीखने योग्य है। चीन में अभी समाप्त राष्ट्रीय जन प्रतिनिधि सभा में आर्थिक नीतियों पर विचारार्थ मुद्दों पर विश्व का ध्यान आकर्षित है और न्यू कोरोना निमोनिया महामारी से चीनी अर्थव्यवस्था को उच्च मूल्य वर्धित क्षेत्रों की ओर विकसित कराया जाएगा।

30 मई : चीन की मुख्य भूमि में कोविड-19 के 2 नए मामले

चीनी राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने 31 मई को घोषणा की कि 30 मई को चीन की मुख्य भूमि में कोविड-19 के 2 नए पुष्ट मामले दर्ज हुए, जो सब विदेशों से आए हैं। मौत के मामले और संदिग्ध मामले की रिपोर्ट नहीं मिली।

उकसावे पर ध्यान न दें, महामारी की रोकथाम में सहयोग सबसे अहम

अब कोविड-19 महामारी दुनिया भर में फैल रही है। चीन ने सबसे पहले महामारी की रिपोर्ट प्रस्तुत की और इस संकट का सामना किया। भारत ने भी महामारी फैलने के बाद शीघ्र ही कदम उठाए।

वैश्विक सहयोग से ही कोविड-19 महामारी का खात्मा होगा

पिछले कुछ महीनों में दुनिया की तस्वीर बदल गयी है। क्योंकि अधिकांश देश कोविड-19 महामारी से जूझ रहे हैं। और विभिन्न देशों में लॉकडाउन जारी है

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद ने डब्ल्यूएचओ का समर्थन देने की अपील की

स्थानीय समयानुसार 29 मई को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद ने एक अध्यक्षीय बयान जारी किया।

डब्ल्यूएचओ के साथ संबंधों को तोड़ेगा अमेरिका

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 29 मई के तीसरे पहर ह्वाइट हाउस के एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि चूंकि डब्ल्यूएचओ ने अमेरिका की मांग के अनुसार सुधार करने से इनकार किया, इसलिए अमेरिका डब्ल्यूएचओ के साथ संबंध को बंद करेगा और इस संगठन को दी गयी सदस्यता फीस को अन्य क्षेत्रों में इस्तेमाल में करेगा।

रूसः डब्ल्यूएचओ से संबंध तोड़ना स्वास्थ्य सहयोग के अंतरराष्ट्रीय कानूनी नींव का उल्लंघन है

रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जाखारोवा ने कहा कि अब विश्व को एकजुट होकर कोविड-19 का मुकाबला करने का वक्त है। लेकिन अमेरिका ने डब्ल्यूएचओ के साथ संबंधों को तोड़ा, यह स्वास्थ्य सहयोग के अंतरराष्ट्रीय कानूनी नींव का उल्लंघन है। 

इतिहास में सब से खराब विदेश मंत्री अमेरिका को ब्लैक होल में खींच रहे हैं

न्यायार्क टाइम्स की वेबसाइट ने हाल में एक लेख जारी कर अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पेओ अमेरिकी इतिहास में सब से खराब विदेश मंत्री हैं। 

डब्ल्यूएचओः विभिन्न देश सार्वजनिक स्वास्थ्य का खर्च कम कर आर्थिक संकट का निपटारा न करें

​डब्ल्यूएचओ के यूरोपीय कार्यालय के प्रधान हेन्स खलुग ने 28 मई को एक न्यूज ब्रीफिंग में चेतावनी देते हुए कहा कि कोविड-19 से यूरोपीय अर्थव्यवस्था मंदी की चपेट में आयी है। लेकिन विभिन्न देश सार्वजनिक स्वास्थ्य को कम कर आर्थिक संकट का निपटारा न करें।

HomePrev12345...NextEndTotal 50 pages