सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

चीन की लोकतांत्रिक पार्टियां

2017-08-15 14:20:22
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चीन में चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के अतिरिक्त और 8 राजनीतिक पार्टियां होती हैं, वे हैं चीनी कोमिनतांग पार्टी की क्रांतिकारी कमेटी, चीनी डेमोक्रेटिक लीग, चीनी डेमोक्रेटिक राष्ट्रीय निर्माण सोसाइटी, चीनी डेमोक्रेसी संवर्धन सोसाइटी, चीनी किसान एवं मजदूर डेमोक्रेटिक पार्टी, चीनी चीकुंग पार्टी, च्युसान सोसाइटी और थाइवान डेमोक्रेटिक स्वशासन लीग। इन की स्थापना जापानी आक्रमण विरोधी युद्ध काल में या राष्ट्रीय मुक्ति युद्ध काल में की गई थी और इन्हें लोकतांत्रिक दल कहलाता है।

राजनीतिक क्षेत्र में चीन की लोकतांत्रिक दल चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के नेतृत्व में आते हैं, चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के साथ दिर्घकारक सहयोग करने औसमान संघर्ष करने के दौरान उन्होंने यह इंतिखाब किया। चीनी संविधान के तहत चीनी लोकतांर्तिक दल राजनीतिक स्वतंत्रता, स्वतंत्र संगठन और समान वैध स्थान का उपभोग करते हैं। चीनी कम्युनिस्ट पार्टी और इन लोकतांत्रिक दलों के साथ सहयोग 《दीर्घकारक सहअस्तित्व, आपसी निरीक्षण, एक दूसरे के साथ दिल खुलने और सम्मान देने के साथ सम्मान व ख़ून बहाने के साथ ख़ून 》के बुनियादी उसूल पर आधारित है।

चीन के आठ लोकतांत्रिक दल रवपक्ष नहीं है, वे सब सत्तारूढ पार्टी के साथ मिल कर सत्ता के प्रशासन में शामिल हैं। चीन की विभिन्न स्तरूय जन प्रतिनिधि सभाओं, जन राजनीतिक सलाहकार सम्मेलनों, सरकारों और आर्थिक, सांस्कृतिक, शिक्षिक, वैज्ञानिक व तकनीकी विभागों में इन लोकतांत्रिक दलों के सदस्य नेतृत्वकारी पद संभालते हैं। मिसाल को ही लीजिए, इन के अध्यक्ष चीनी राष्ट्रीय जन प्रतिनिधि सभा की स्थाई समिति या चीनी जन राजनीतिक सलाहकार सम्मेलन की राष्ट्रीय कमेटी के उपाध्यक्ष हैं। इन आठ राजनीतिक दलों का बड़ा विकास हुआ है। चीन के सभी प्रांतों, स्वायत प्रदेशों, केन्द्र शासित शहरों या बड़े व मझौले शहरों में इन की स्थानीय शाखाएं हैं।

चीनी कोमिनतांग पार्टी की क्रांतिकारी कमेटी

इस की स्थापना 1 जनवरी 1948 को हुई। यह चीनी कोमिनतांग पार्टी के लोकतंत्रीय पक्ष और अन्य लोकतंत्रीय देशभक्तों से गठित है। यह राजनीतिक लीग के रूप में चलता है और चीनी विशेषताएं वाले समाजनाद के निर्माण व मातृभुमि के पुनरेकीकरण में लगा हुआ है। इस के सदस्य करीब 65 हजार हैं और वर्तमान अध्यक्ष हैं वान अश्यांग।

चीनी डेमोक्रेटिक लीग

चीनी डेमोक्रेटिक लीग की स्थापना मार्च 1941 में चीनी डेमोक्रेटिक राजनीकित दल लीग के नाम से हुई। वर्ष 1944 में इसे वर्तमान नाम के रूप में दिया गया। लीग एक ऐसा राजनीतिक लीग है, जिस का मूल संस्कृति या शिक्षा में कार्यरत बुद्धिजीवी, समाजवादी शर्मिक और समाजवाद का समर्थन करने वाले देशभक्त है। इस का लक्ष्य समाजवाद की सेवा करना है। लीग के सदस्य 1 लाख 56 हजार हैं, और वर्तमान अध्यक्ष हैं चांग पाओवन।

चीनी डेमोक्रेटिक राष्ट्रीय निर्माण सोसाइटी

चीनी डेमोक्रेटिक राष्ट्रीय निर्माण सोसाइटी की स्थापना दिसंबर 1945 में हुई। सोसाइटी के मूल देशभक्त राष्ट्रीय उद्योगपति, व्यापारी और इन से संबंधित बुद्धिजीवी हैं। सोसाइटी के कुल सदस्य 85 हजार हैं और वर्तमान अध्यक्ष हैं छन छांगची।

चीनी डेमोक्रेसी संवर्धन सोसाइटी

इस की स्थापना भी दिसंबर 1945 में हुई। इस के मूल शिक्षा, संस्कृति, प्रकाशन विज्ञान जैसे कामरत बुद्धिजीवी हैं। कुल सदस्य 81 हजार हैं और वर्तमान अध्यक्ष हैं यान च्वुनछी।

चीनी किसान एवं मजदूर डेमोक्रेटिक पार्टी

इस की स्थापना अगस्त 1930 में हुई। पार्टी के मूल स्वास्थ्य, चिकित्सा, विज्ञान, तकनीक, संस्कृति और शिक्षा के जगतों के बुद्धिजीवी और समाजवादी शमिक व देशभक्त हैं। पार्टी के कुल सदस्य 80 हजार हैं और वर्तमान अध्यक्ष हैं छन चू। 

चीनी चीकुंग पार्टी

चीनी चीकुंग पार्टी की स्थापना अक्टुबर 1925 में हुई। इस के मूल प्रवासी चीनी और इन के परिजन हैं। पार्टी के कुल सदस्य 20 हजार हैं और वर्तमान अध्यक्ष हैं वान कांग।

च्युसान सोसाइटी

ज्युसान सोसाइटी की स्थापना मई 1946 में हुई। इस का मूल विज्ञान व तकनीक, संस्कृति और शिक्षा तथा चिकित्सा व स्वास्थ्य जगतों के बुद्धिजीवी हैं। इस के कुल सदस्य 80 हजार हैं और अध्यक्ष हैं हान छीत।

थाइवान डेमोक्रेटिक स्वशासन लीग

इस लीग की स्थापना नवंबर 1947 में हुई। लीग का मूल चीन की मुख्यभूमि पर रह रहे थाइवान प्रांत के समाजवादी श्रमिक और समाजवाद का समर्थन करने वाले देशभक्त हैं। लीग के कुल सदस्य 1800 हैं और अध्यक्ष हैं लिन वनयी।

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories