सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

चीनी जातियों की आम जानकारी

2017-08-15 14:57:30
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चीन एक जाती बहुल देश ही नही, विश्व में जन संख्या की दृष्टि से सब से बड़ा देश भी है । अब चीन की जन संख्या एक अरब 30 करोड़ और कुल 56 जातियां हैं ।

चीन की जातियों में हान जाति, मंगोल जाति, ह्वी जाति, तिब्बती जाति, उइगुर जाति, म्याओ जाति, यी जाति, ज्वांग जाति, बुयी जाति, कोरियाई जाति , मान जाति, तोंग जाति, याओ जाति, पाई जाति, थुचा जाति, हानि जाति, कज़ाख जाति, ताई जाति, ली जाति, सुली जाति, वा जाति, श जाति, गोशान जाति, लाहू जाति, श्वी जाति, तुंग श्यांग जाति, नाशी जाति, चिंगफ जाति, अर्कज़ जाति, थु जाति, दावर जाति, मुलाओ जाति, छ्यांग जाति, बुलांग जाति, सारा जाति, माओनान जाति, गलाओ जाति, शिबो जाति, आछांग जाति, फुमि जाति, ताज़िक जाति, नू जाति, उज़बेक जाति, रूसी जाति, अवनक जाति, दआंग जाति, पाओआन जाति, य्वुगु जाति, चिंग जाति, तातार जाति, तुलुंग जाति, अलुनछुंग जाति, हच जाति, मनबा जाति, लोबा जाति और चिनो जाति हैं । इन के अलावा, चीन में कई ऐसी आबादी है, जिन की जाती की शिनाख्त अब नहीं हो पायी है ।

चीन में हान जाति की जन संख्या देश की कुल जन संख्या का लगभग 92 प्रतिशत है , और अन्य अल्पसंख्यक जातियों की कुल जन संख्या देश का 8 प्रतिशत है । हान जाति की तुलना में अन्य 55 जातियों की जन संख्या कम होने के कारण उन्हें अल्पसंख्यक जाति कहलाती है । अल्पसंख्यक जातियां मुख्य तौर पर उत्तर पश्चिमी , दक्षिण पश्चिमी, तथा उत्तर पूर्व चीन में रहती हैं।

चीनी राष्ट्र के विकास के कालंतर में चीन की आबादी की एक ऐसी स्थिति बन गई है , जिस में मौटे तौर पर विभिन्न जातियों के लोग बहु संख्यक हान जाति के साथ साथ साथ रहते हैं और हान जाति प्रमुख होती है , लेकिन सापेक्षा की तौर पर कुछ स्थानों में अल्पसंख्यक जाति बहुल आबादी भी बन जाती है । 55 अल्पसंख्यक जातियों में ह्वी जाति और मान जाति हान जाति की भाषा का प्रयोग करने के अलावा अन्य अल्पसंख्यक जातियां अपनी अपनी भाषा व बोली बोलती हैं । लम्बे अरसे में चीन की 56 जातियां 96 लाख वर्गकिलोमीटर की भूमि में मेलमिलाप के साथ रहती हैं , और साथ साथ चीन के पूराने इतिहास और रंगबिरंगी संस्कृति का सृजन करती हैं ।

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories