सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

चांग ली

2017-08-15 14:08:17
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

गीत लेखक चांग ली का जन्म वर्ष 1932 के अक्तूबर माह की 17 तारीख को उत्तर पूर्वी चीन के ताल्येन शहर में हुआ । वर्ष 1945 में वे ताल्येन पहला मिडिल स्कूल में दाखिल हुए और वर्ष 1948 में उत्तर पूर्वी चीन स्थित लू यी कला कॉलेज के ऑपेरा विभाग में साहित्य का विषय पढ़ने लगा । वर्ष 1950 में उन्होंने इसी कॉलेज में एक अध्यापन और साहित्यिक सृजन का काम शूरू किया । वर्ष 1955 में वे पेइचिंग नार्मल कॉलेज के चीनी भाषा विभाग में पढ़ाने लगे , वर्ष 1957 में वे उत्तर पूर्वी चीन के चीलिन प्रांत की नृत्यनाटक मंडली में काम करते थे और फिर वर्ष 1970 में चीनी केंद्रीय जातीय संगीत मंडली में दाखिल हुए । चांग ली देश के प्रथम श्रेणी के नाटत संपादक हैं ।

अपने पचास से ज्यादा कला सृजन जीवन में चांग ली ने बड़ी संख्या में रचनाएं रचीं , मसलन् उन द्वारा लिखे गए गीत《 बाड़ा दीवार की परछाई 》,《दुखी सुखी जीवन》,《महान एशिया》,《मैं और मेरी मातृभूमि》,《वर्षों की बिदाई के बाद》तथा《पहाड़ खड़ा रहा और पानी बहता रहा》आदि बहुत लोकप्रिय रहे ।

गीत के लेखक के रूप में चांग ली को चीनी संगीत क्षेत्र में काफी टेढ़मेढा रास्ता तय करना पड़ा था । 20वीं शताब्दी के साठ वाले दशक में उन की अधिकतर रचनाएं इसी क्षेत्र के पुराने विशेषज्ञों से दुतकार किए गए थे । लेकिन चांग ली विफलता को दूर कर गीत के बोल लिखने के रास्ते पर डटे रहे और अंत में उन की रचनाओं ने चीनी दर्शकों की वाहवाही लुटी। चांग ली के गीतों के बोल में जीवन की नई सांस से भरपूर अपना विशेष पहचान लिए हुआ हैं , जो बहुत कर्णप्रिय रहा है ।

अब वयोवृद्ध होने पर भी चांग ली लेखन के काम में व्यस्त रहे हैं । हालांकि उन की कमर में दर्द है, फिर भी वे गीत रचने में लगे रहे । इस के साथ ही वे गीत संगीत अध्ययन संगोष्ठी तथा शौकिया गीत संगीत लेखकों के प्रशिक्षण आदि काम भी करते हैं , कलाकार चांग ली चीनी कला कार्य के लिए अपना यागदान करते रहे हैं ।

[चांग ली का लिखा गीत]: 《मैं और मेरी मातृभूमि》

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories