सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

फ्याओ तुंग शङ

2017-08-15 14:19:40
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चीनी संगीत निर्देशक फ्याओ तुंग शङ का जन्म वर्ष 1934 में उत्तर पूर्वी चीन के ल्याओ निन प्रांत की राजधानी शङ यांग में हुआ । वर्ष 1949 में वे संस्कृति व कला क्षेत्र में काम करने लगा, और इस के बाद उत्तर पूर्वी चीन के लू श्युन कला कॉलेज में पढ़ते रहे । फ्याओ तुंग शङ चीनी केंद्रीय नृत्य गान मंडली के संगीत निर्देशक रहे और वर्तमान में चीनी जातीय वाद्य संघ के निर्देशक तथा चीनी विडियो ओडियो संघ के उपाध्यक्ष हैं ।

अपने पचास सालों से लम्बे संगीत जीवन में फ्याओ तुंग शङ मुख्य तौर पर जातीय तंतुवाद्य मंडली का निर्देशन करते हैं । उन्होंने प्रथम चीनी कला उत्सव के उद्घाटन समारोह में एक हज़ार लोगों से गठित बड़े संगीत दल का निर्देशन किया, वे क्रमशः चीन के थाई वान प्रांत के निमंत्रण पर वहां के कई संगीत मंडलियों के मेहमान निर्देशक रहे , फ्याओ तुंग शङ चीन के हांग कांग क्षेत्र व सिंगापुर संगीत मंडलियों के निमंत्रण पर मेहमान संगीत निर्देशक बने, चीनी जातीय संगीत मंडली, चीनी ऑपेरा नाटक थिएटर के जातीय संगीत दल तथा सछ्वान प्रांत की राजधानी छङ तू के जातीय संगीत मंडली आदि संगीत मंडलियों के मेहमान एवं विशेष संगीत निर्देशक बने । इन के अलावा फ्याओ तुंग शङ चीनी केंद्रीय नृत्य गान मंडली के निर्देशक के रूप में दसियों देशों व क्षेत्रों की यात्रा की और अनेक फिल्मों, टी.वी कार्यक्रमों तथा संगीत एलबमों के लिए संगीत काम का निर्देशन किया ।     

पेशेवर संगीत निर्देशन के साथ साथ फ्याओ तुंग शङ जातीय संगीत रचने तथा संगीत अनुसंधान करने में भी लगे हुए हैं । उन्होंने चीनी जातीय संगीत सिनफ़ोनी कार्यक्रम《पिओनी देवी की कहानी》, जातीय तंतुवाद्य धुन《च्यांग सू प्रांत की जातीय संगीत 》,《म्याओ जाति का सुनहरा जीवन》तथा《अ ली शान पर्वत का सौंदर्य》 तथा शहनाई वादन की धुन《विजय की खुशी》आदि कोई सौ से ज्यादा संगीत रचनाएं रचीं । इस के अलावा, फ्याओ तुंग शङ ने सिंगापुर , चीन के थाई वान, राजधानी पेइचिंग आदि जगहों में अपनी संगीत सभा आयोजित की । उन्होंने पत्रिका《जनता का संगीत》और《संगीत सप्ताह》 में लेख और《संगीत का निर्देशन तरीका》पुस्तक प्रकाशित किया ।

वर्ष 1993 में फ्याओ तुंग शङ को चीनी संस्कृति मंत्रालय द्वारा कला क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान करने वाले विशेषज्ञ के पुरस्कार से सम्मानित किया गया ।

[फ्याओ तुंग शङ की धुन]: 《खुशबू फूल और सुन्दर चांदनी》

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories