सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

वांग छी हङ

2017-08-15 14:37:39
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

वांग छी हङ चीन में मशहूर बांसुरी बजाने वाले वाद्यकार हैं, वे चीनी जातीय संगीत क्षेत्र में में बहुत सक्रिय रहे , अब वांग छी हङ चीनी संगीतकार संघ के सदस्य ही नहीं, चीनी जातीय तंतुवाद्य संघ के सदस्य, चीनी तंतुवाद्य अनुसंधान केंद्र के सदस्य और चीनी केंद्रीय जातीय संगीत मंडली के कर्मचारी भी हैं ।

श्री वांग छी हङ का जन्म वर्ष 1959 में ज च्यांग प्रांत की राजधानी हांग चो में हुआ । युवावस्था में वे मशहूर चीनी संगीतकार बांसुरी बजाने वाले वाद्यकार स्वर्गीय चाओ सोंग थिंग से सीखते थे । वर्ष 1980 में वांग छी हङ ने चीनी केंद्रीय संगीत कॉलेज में दाखिला पाया और वे मशहूर बांसुरी वाद्यकार जङ योंग छिंग से सीखने लगे , इस के साथ ही उन्होंने मशहूर चीनी संगीतकार, शिक्षक लान यू सोंग, सुप्रसिद्ध बांसुरी वाद्यकार वांग थ्ये छ्वे और लू छुन लिन से सीखा । वर्ष 1984 में वांग छी हङ चीनी केंद्रीय संगीत मंडली के बांसुरी बजाने वाले कर्मचारी बन गए ।

वादन कला में वांग छी हङ की अपनी अलग शैली बनी है । उन की बांसुरी धुनें कभी नरम होती है कभी बुलंद , कभी जोशीला है कभी कोमल होती है । उन्होंने क्रमशः चीनी संगीत के उत्थान तथा चीनी जातीय संगीत के उत्थान के लिए आयोजित महत्वपूर्ण संगीत सभाओं में भाग लिया और उन की प्रस्तुतियों को ल्यू जी, ली ह्वान जी तथा शी ल आदि सुप्रसिद्ध चीनी वाद्यकारों की प्रशंसा मिली । इन संगीतकारों ने वांग छी हङ के साथ सहयोग कर बहुत सी मधूर धुनें रचीं और बांसुरी बजाने की नई नई कला भी विकसित की ।

वांग छी हङ ने कई बार देशी विदेशी संगीत प्रतियोगिताओं में पुरस्कार हासिल किये । वर्ष 1982 में उन्होंने अपनी बांसुरी धुन《 शहतूत बगीचे का वसंत》से चीनी केंद्रीय संगीत कॉलेज में जातीय संगीत प्रतियोगिता में कांस्य पदक हासिल किया, वर्ष 1987 में उन्होंने क्वांगतुंग प्रांत में आयोजित प्रथम राष्ट्रीय स्तरीय संगीत प्रतियोगिता में चैम्पियनशिप हासिल की, वर्ष 1989 में वांग छी हङ ने चीनी जातीय वाद्य संगीत प्रतियोगिता में पुरस्कार प्राप्त किया और इसी वर्ष के जुलाई में उन्हें जनवादी कोरिया में आयोजित 13वें विश्व युवा समारोह में सब से श्रेष्ठ बांसुरी वाद्यकार के पुरस्कार से सम्मानित किया गया , इन के अलावा, वर्ष 1991 में वांग छी हङ को चीनी संस्कृति मंत्रालय द्वारा श्रेष्ठ संगीत कलाकार के पुरस्कार से सम्मानित किया गया ।

वर्ष 1990 में वांग छी हङ ने पेइचिंग में अपनी बंसुरी संगीत सभी आयोजित की, जिसे चीनी संगीत जगत का उच्च मुल्यांकन मिला । सुप्रसिद्ध संगीकार ल्यू जी ने उन्हें चीनी बांसुरी क्षेत्र में सब से श्रेष्ठ और सृजन शक्ति रखने वाले वाद्यकारों में से एक माना ।

वांग छी हङ ने आस्ट्रिया, फ़्रांस, जर्मनी, अमरीका आदि देशों की यात्रा की और उन की प्रस्तुतियों को स्थानीय दर्शकों की खूब सरहना ही नहीं, उच्च मुल्यांकन भी हासिल हुआ

वांग छी हङ बराबर लगन से संगीत कला सीखते रहे हैं , और वे हमेशा से अपनी अलग संगीत शैली बनाने पर सोच विचार करते रहे हैं ।

[वांग छी हङ की बांसुरी धुन]: 《निशांग नृत्य धुन》 

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories