सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

पेइचिंग के प्राचीन निर्माणों का आश्चर्य खोज

2017-08-15 16:56:32
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

दूर संवेदन तकनीक से पेइचिंग के अनेक प्राचीन निर्माणों में आश्चर्यों का पता चला है । चीन के मिन राजवंश के यङ ल काल में (ईस्वी 1403--1425) निर्मित पेइचिंग नगर सदियों से अपनी सुव्यवस्थित विन्यास और आलीशान वास्तु निर्माणों के कारण विश्व में मशहूर रहा है । इधर के सालों में चीनी वैज्ञानिकों ने दूर संवेदन तकनीक से पेइचिंग नगर की हवाई तस्वीर खींची , इस से पता है कि पेइचिंग के पुराने नगर में ड्रैगन के रूपाकार में निर्माणों की दो लम्बी बड़ी लाइनें लेटी हुई दिखाई देती है और उस पर एक विशाल आकृति का मनुष्य बैठा सा नजर आया है , विहंगदृष्टि से यह नजारा बहुत आश्चर्यचकित और अजीबोगरीब लगता है , ये दृश्य अब पेइचिंग शहर के दो नव आश्चर्य बन गए है , जिस की ओर बहुत से लोग आकर्षित हो रहे हैं ।

दूर संवेदन तकनीक से खींची गई पेइचिंन नगर की रंगीन तस्वीर से यह स्पष्ट दिखता है कि ये दो ड्रैगन दक्षिण उत्तर की दिशा में पूरे शहरी क्षेत्र से समानांतर गुजरते हैं , दोनों में से एक पेइचिंग के प्राचीन वास्तु निर्माणों से बना है , वह प्राचीन वास्तु निर्माणों का विशाल ड्रैगन कहा जा सकता है , प्राचीन वास्तु निर्माणों का यह ड्रैगन पेइचिंग के थ्येन आं मन मंच से आरंभ होता है , जो शहर के उत्तर में स्थित घंटा ढोल टावर तक पहुंचता है । दक्षिण से उत्तर तक किलोमीटरों लम्बी इस लाइन पर थ्येन आं मन मंच ड्रैगन का मुंह , मंच के आगे बने पांच संगमर्मर पुल ड्रैगन की मूछ , पुल के पास पूर्व पश्चिम में चली छांग आन सड़क ड्रैगन की लम्बी दाढ़ी , थ्येन आं मन मंच की दोनों तरफ स्थित शाही पूर्वज मंदिर तथा भू फसल पूजा मंडप वाले उद्यान ड्रैगन की दोनों आंखें , मंच के पीछे बसा विशाल पुराना शाही प्रासाद ड्रैगन का शरीर , फिर आगे चल कर प्रासाद के उत्तर में ऊंचा खड़ा च्येन शान पार्क का पर्वत ड्रैगन की रीढ़ , पार्क के पीछे दूर उत्तर में खड़ा घंटा ढोल टावर ड्रैगन का पूच्छ सा लगता है , शाही प्रासादा के चार छोरों पर चार अनुठे डिजाइन के मंडप खड़े हैं , जो ड्रैगन के चार पैर पांव चारों ओर बढ़े से दिखते हैं ।

पेइचिंग में लेटे दूसरा विशाल ड्रैगन नहरों और झीलों से बना हुआ है ।दूर संवेदन तकनीक से खिंची तस्वीर में पेइचिंग शहर की जल व्यवस्था भी विशाल ड्रैगन का आकार जान पड़ती है । इस ड्रैगन का सिर पेइचिंग शहर के बीचोंबीच आबाद चुंगनांहाई उद्यान में अवस्थित नांहाई झील है , उद्यान में बनी एक अन्य झीलें यानी चुंग हाई व उद्यान के पीछे पै हाई पार्क में पै हाई झील दोनों जुड़ कर ड्रैगन का लहरदार शरीर सा लगता है , पै हाई झील के उत्तर पश्चिम में फैली शशाहाई झील ड्रैगन का घूमावर पूच्छ सा नजर आती है ।

पेइचिंग का तीसरा अजीबोगरीब नजारा च्येन शा पार्क के दृश्य से बना हुआ है , पार्क में च्येन शान नामक पर्वत का विहंगदृश्य एक ऐसा विशाल मनुष्य लगता है , जो आंखें मूंदे ध्यान आसन में शान से बैठा हुआ है । य्चेन शा पार्क शाही परिवार का उपवन था , जो शाही प्रासाद के उत्तर में बनाया गया था । इस का यह डिजाइन सुनियोजित है , या संयोग का हो ,अभी यह एक रहस्या है ।

पेइचिंग नगर की इन नई ताज्जब खोजों से इस प्राचीन शहर पर गाढ़ा रहस्या का रंग मढ गया है ।

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories