सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

भोजन से जुड़े हुए रीति-रिवाज़

2017-08-15 15:40:12
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चीन में एक कहावत है कि कोई भी दवा भोजन से अच्छी नहीं है । इस का मतलब है कि लोगों को अपने स्वास्थ्य को बनाये रखने के लिए सर्वप्रथम उचित खाद्य पदार्थ खाने चाहिये । चीनियों में गरीब लोग भी अपने भोजन की गुणवत्ता को महत्व देते हैं । और अमीर लोग तो अपने भोजन को अच्छा बनाने का अथक प्रयास करते ही रहते हैं । इसतरह खाने-पीने के विशेष रीति-रिवाज़ बनते गये हैं । खाने-पीने के रीति-रिवाज़ भी लोगों के जीवन में त्यौहार की खुशी मनाने , विवाह करने तथा जन्मतिथि मनाने के रीति-रिवाज़ों की ही तरह बहुत महत्वपूर्ण हैं ।

खाने पीने के रीति-रिवाज़ लोगों के आपसी संबंधों में दिखाई देते हैं । गृह-प्रवेश या बच्चे के जन्म के अवसर पर मित्र , रिश्तेदार आदि उपहार देते हैं । मेजबान भी आमंत्रित अतिथियों के लिए बेहतरीन भोजन का इंतजाम करता है । चीनियों की ऐसी आदत है कि मेजबान यथासंभव अपने अतिथियों को संतोषजनक भोजन तैयार करता है । चीनियों की व्यापार की वार्ता भी अक्सर भोज के साथ जुड़ी रहती है । सफल व्यापार अक्सर सफल भोज का सहारा होता है ।

चीन के विभिन्न क्षेत्रों में अतिथियों के स्वागत के तरीके अलग अलग हैं । पेइचिंग में अगर मेज़बान अतिथि को नूडल खिलाता है , तो इस का मतलब है कि मेज़बान अतिथि को ठहराना चाहता है । अगर अतिथि घर में रहने के लिए आये , तो मालिक उन्हें चाओत्ज़ नामक विशेष चीनी भोजन परोसते हैं । रिश्तेदारों के यहां जब लोग जाते हैं , तो अक्सर आठ किस्म के केक एक बाँक्स में रखकर उपहार देते हैं । दक्षिणी चीन में घर में जब कोई अतिथि आता है , तो मेज़बान तुरंत ही अतिथि के सम्मान में चाय , केक या शक्कर के पानी में अंडा उबाल कर पेश करते हैं । यह सब भोजन सामान्य भोज से पहले परोसा जाता है । पूर्वी चीन के फूचैन प्रांत के च्वानचाओ शहर में मेज़बान अपने अतिथियों को फल खिलाते हैं , फलों में संतरा ही रखा जाता है । क्योंकि चीनी बोली में संतरे के शब्द का उच्चारण सौभाग्य के लिए जो शब्द है उस के उच्चारण के बराबर है । इसलिए अतिथि को संतरा खिलाने का मतलब है उन्हें सौभाग्य की शुभकामना देना ।

अतिथियों के सम्मान में भोज देने के तरीके भी अलग अलग हैं । पेइचिंग में लोग सामान्य भोज के लिए मेज़ पर आठ कटोरे और आठ थालियां रखते हैं । तालियां ठंडी सब्ज़ी के लिए कटोरे गर्म के लिए । उत्तरी चीन के हेलुंगच्यांग प्रांत में भी ऐसा प्रचलन है कि सब्ज़ियों की मात्रा दुगुनी होनी चाहिये । दूसरे क्षेत्रों में भोज में मछली भी होनी चाहिये क्योंकि मछली शब्द का उच्चारण दूसरे चीनी शब्द अमीर शब्द के उच्चारण के समान है । विवाह से संबंधित भिन्न भिन्न प्रकार के भोज होते हैं । विवाह भी सूचना देने के लिए भोज दिया जाता है । लड़का और लड़की के प्रथम मिलन के लिए भी भोज तैयार होता है , शादी तय करने और विवाह करने आदि सब के लिए भी भोज तैयार होते हैं । बेशक विवाह के समय का भोज सब से शानदार होता है । पश्चिमी चीन के शानशी प्रांत में विवाह के भोज में हरेक सब्जी का अपना अलग अलग अर्थ होता है । प्रथम सब्जी किसी लाल मांस से बनायी जाती है जिस का मतलब है खुशी और सुखमय जीवन । दूसरी सब्ज��� का नाम है पूरे परिवार का सुख । इस के बाद चावल , चीनी खुजूर , लिली और कमल के फूल के बीज़ों आदि बना भोजन परोसा जाता है । पूर्वी चीन के च्यांगसू प्रांत में विवाह के भोज में हरेक मेज़ पर सोलह , चौबीस या छतीस कटोरे रखे जाते हैं । इन सब का मतलब है शुभकामना देना । बुजुर्गों की जन्मतिथि के लिए तैयार नूडल का अर्थ दीर्घायु है । पूर्वी चीन के हांगचाओ और च्यांगसू आदि क्षेत्रों में बुजुर्गों के जन्मदिन मनाते समय दोपहर को नूडल खिलाया जाता है और शाम को सामान्य भोज तैयार किया जाता है । हांगचाओ शहर में लोग जन्मदिन मनाते समय दूसरे आदमी के कटोरे में चौपस्टिक से नूडल डालते हैं जिस का मतलब है दूसरे को अधिक जिंदगी देना । नूडल भी दो कटोरे खाना चाहिये , पर हरेक कटोरे को पूरी तरह नहीं भरना चाहिये क्योंकि वह शुभ नहीं है ।

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories