चीन वैश्विक विज्ञान विकास में अधिक शक्ति प्रदान करेगाः चीनी विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री

2021-03-02 10:15:32

चीन वैश्विक विज्ञान विकास में अधिक शक्ति प्रदान करेगाः चीनी विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री_fororder_1

13वीं पंचवर्षीय योजना से चीन ने सृजनात्मक देश के निर्माण में निर्णायक उपलब्धि हासिल की है ।चीन की वैज्ञानिक और प्रौद्योगिकी शक्ति बड़ी छलांग लगाकर एक नयी मंजिल पर पहुंची है ,जिसने आर्थिक विकास ,जनजीवन के  सुधार और राष्ट्रीय सुरक्षा में स्तंभ की भूमिका निभायी ।विश्व बौद्धिक संपदा अधिकार संगठन द्वारा जारी वैश्विक नवाचार सूचकांक के अनुसार चीन की रैंकिंग वर्ष 2015 के 29 स्थान से बढ़कर वर्ष 2020 के 14वें स्थान पर आयी ।चीनी विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री वांग चीकांग ने हाल ही में  हुई प्रेस वार्ता में बताया कि बाद में चीन अर्थव्यवस्था ,व्यवसाय ,समाज और सुरक्षा समेत सभी पहलुओं में हाई टेक की मार्गदर्शक क्षमता और उन्नत करेगा और वैश्विक विज्ञान विकास में अधिक चीनी शक्ति एवं चीनी उपलब्धियां प्रदान करेगा ।

पिछले 5 वर्षों की सफलता की चर्चा में वांग चीकांग ने बताया कि अनुसंधान और विकास में समग्र समाज का निवेश वर्ष 2015 के 14 खरब 20 अरब युआन से बढ़कर वर्ष 2020 में 24 खरब युआन तक पहुंचा ।इसमें बुनियादी अनुसंधान की पूंजी वर्ष 2015 से लगभग दो गुना से अधिक रही ।वैज्ञानिक गुणवत्ता संपन्न नागरिकों का अनुपात 10 प्रतिशत से अधिक रहा ।विश्व में नवाचार की वरीयता में चीन 14वें स्थान पर आ गया है।

चीन वैश्विक विज्ञान विकास में अधिक शक्ति प्रदान करेगाः चीनी विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री_fororder_2

पाँच साल में चीन ने वैज्ञानिक खुलेपन व सहयोग में बड़ा कदम बढ़ाया ।वांग चीकांग ने बताया कि चीन ने कई देशों के साथ नवाचार वार्तालाप तंत्र स्थापित किया है और 50 से अधिक देशों व क्षेत्रों के साथ संयुक्त अध्ययन किया ।चीन ने गहराई से अंतरराष्ट्रीय थर्मोन्यूक्लियर एक्सपेरिमेंटल रिएक्टर समेत बड़ी अंतरराष्ट्रीय वैज्ञानिक परियोजनाओं में भाग लिया और एक पट्टी एक मार्ग नवाचार सहयोग योजना के तहत 8300 से अधिक युवा विदेशी वैज्ञानिक कर्मचारियों को चीन में काम करने में मदद दी और 33 संयुक्त प्रयोगशालाएं स्थापित की ।

कोविड-19 महामारी के दौरान चीनी विज्ञान व प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने क्लिनिक बचाव व दवा ,टीके के विकास और जांच उपकरण जैसे क्षेत्रों में विशेष अध्ययन अभियान चलाया और वैश्विक महामारी संघर्ष में चीन का योगदान दिया ।उन्होंने बताया कि चीन ने एक हफ्ते में ही वायरस की जेनोमिक सीक्विंसिंग पूरी की और 14 दिन में न्यूक्लियर ऐसिड जांच किट का विकास पूरा किया ।अब चीन में कोविड-19 के चार टीकों को सशर्त बाजार में उतरने की पुष्टि मिली है ।चीन ने विश्व स्वास्थ्य संगठन के 10 कार्य समूहों में हिस्सा लिया और अमेरिका ,यूरोप ,एशिया ,अफ्रीका और लाटिन अमेरिका के दशों के साथ महामारी के साथ मुकाबले में सहयोग किया और चीनी योजना पेश की ।

भावी विकास की चर्चा में वांग चीकांग ने बताया कि चीन व्यावसायिक चेन के हाई एंड विकास के लिए चीन सिलसिलेवार कुंजीभूत तकनीकों के विकास में ब्रेकथ्रू हासिल करने की पूरी कोशिश करेगा और अग्रिम तकनीकों के प्रयोग को मजबूत कर एआई ,क्वांटम सूचना ,बायो ब्रीडिंग जैसे क्षेत्रों में कई महत्वपूर्ण वैज्ञानिक परियोजनाएं लागू की जाएंगी ।इस के अलावा चीन गंभीर बीमारी की रोकथाम ,दवाओं व चिकित्सा उपकरणों के विकास ,प्रदूषण की रोकथाम ,ऊर्जा संसाधन के कुशलतापूर्ण प्रयोग और जलवायु परिवर्तन के निपटारे संबंधी तकनीकों के विकास पर जोर देगा।

(वेइतुंग)

लोकप्रिय कार्यक्रम
रेडियो प्रोग्राम
रेडियो_fororder_banner-270x270