चीन का अनुभव कोविड-19 महामारी के खिलाफ अच्छा नुस्खा है : ब्रिटिश 48 ग्रुप क्लब के अध्यक्ष

2021-01-03 15:25:32

चीन का अनुभव कोविड-19 महामारी के खिलाफ अच्छा नुस्खा है : ब्रिटिश 48 ग्रुप क्लब के अध्यक्ष_fororder_1

ब्रिटिश 48 ग्रुप क्लब के अध्यक्ष स्टेफन पेरी ने हाल ही में चाइना मीडिया ग्रुप को दिये एक विशेष साक्षात्कार में कहा कि कोविड-19 महामारी के मुकाबले में चीन का अनुभव पूरे विश्व के लिए अच्छा नुस्खा है।

72 वर्षीय पेरी का चीन के साथ गहरा रिश्ता है ।वर्ष 1953 में उन के पिता जैक पेरी और ब्रिटिश उद्योग व वाणिज्य जगत के दसेक प्रतिनिधियों ने नये चीन के प्रति पश्चिमी देशों की सील को तोड़ कर पेइचिंग की यात्रा की और सब से पहले दोनों देशों के बीच व्यापार वार्ता शुरू की ।जेक पेरी ब्रिटेन-चीन संबंधों का आइसब्रेकर कहलाये जाते हैं ।परिवार के प्रभाव और कई साल तक चीन में काम करने के व्यक्तिगत अनुभव से स्टेफन पेरी चीन को अधिक व्यापक और गहरी दृष्टि से देख सकते हैं ।

वर्ष 2020 में पूरा विश्व कोविड-19 का सामना कर रहा है ।पेरी ने इस महामारी के मुकाबले में चीन के कदमों की पूरी प्रशंसा की ।उन के विचार चीन के अनुभवों ने महामारी की रोकथाम में कारगर उपाय प्रदान किये हैं ।ब्रिटेन समेत अंतरराष्ट्रीय समुदाय को चीन से सीखना और सहयोग मजबूत करना चाहिए ।

चीन का अनुभव कोविड-19 महामारी के खिलाफ अच्छा नुस्खा है : ब्रिटिश 48 ग्रुप क्लब के अध्यक्ष_fororder_3

उन्होंने बताया कि चीन में प्राकृतिक आपदा से निपटने का विशेष तंत्र है ,जिस के पास 70 साल का अनुभव है ।आपदा पैदा होने के बाद वह जल्दी से विभिन्न संसाधन जुटाकर आपदा ग्रस्त क्षेत्र पहुंच सकता है ।कोविड-19 महामारी पैदा होने के बाद चीन ने देश भर के 40 हजार चिकित्सकों और श्वास विशेषज्ञों को वुहान तैनात किया ।हमारे देश में ऐसा करना कठिन है ।हमें गहराई से मालूम करना चाहिए कि चीन कैसे संचालन करता है ।इस क्षेत्र में हमारा सहयोग ज्यादा नहीं है ।

चीन का अनुभव कोविड-19 महामारी के खिलाफ अच्छा नुस्खा है : ब्रिटिश 48 ग्रुप क्लब के अध्यक्ष_fororder_2

 

चीन-ब्रिटेन संबंधों के विकास के दूरगामी रूझान की चर्चा में पेरी ने बताया कि विश्वास चीन-ब्रिटेन संबंधं के विकास का आधार है ।दोनों के संबंधों के विकास के आम रूझान में बदलाव नहीं आएगा ।उन्होंने कहा ,चीन इस लिए विस्तृत क्षेत्रों में ब्रिटेन के साथ संबंधों का विकास करता है कि एक कारण है कि दोनों देश सुरक्षा परिषद के स्थाई सदस्य हैं ।वीटो अधिकार संपन्न यूएन सुरक्षा परिषद के अन्य सदस्यों के साथ अधिक घनिष्ठ रणनीतिक संबंध स्थापित करना अत्यंत महत्वपूर्णँ है ।ब्रिटेन में देश के विभिन्न पहलुओं पर महत्वपूर्ण जिम्मेदारी निभाने वाले कई हस्तियों के विचार में हमें चीन के साथ अच्छा संबंध स्थापित करने की जरूरत है ,खासकर चीन के साथ बेहतर व्यापार संबंधों की स्थापना ।हम यूरोप से अलग हो चुके हैं ।हमें विश्व भर में साझेदारों की जरूरत है ।

पेरी के विचार में संयुक्त राष्ट्र संघ समेत अंतरराष्ट्रीय संगठनों को बड़े देशों और विश्व के विभिन्न देशों के बीच संबंधों के निपटारे का केंद्र बनना चाहिए ।कई संकट उभरने और एकतरफावाद के फैलने के बीच यूएन के प्रति चीन का समर्थन बहुत अहम है ।उन्होंने कहा ,यह निसंदेह है कि यूएन और विश्व व्यापार संगठन को बहुत सुधार कार्य करने की आवश्यकता है ।अगर वे कठिन समय में आगे बढ़ेंगे ,तो यूएन का स्थान ,प्रतिष्ठा व प्राधिकार निरंतर बढ़ जाएगा ।इस दौरान यूएन के प्रति चीन का समर्थन बहुत अहम है ।

48 ग्रुप क्लब के अध्यक्ष के नाते पेरी अकसर चीन की यात्रा करते हैं ।वे चीन के विभिन्न पक्षों से परिचित हैं ।उन्होंने बताया ,मैं ने वर्ष 1972 में पहली बार चीन की यात्रा की ।जब विमान पेइचिंग अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर उतर रहा  था, मां ने मुझे बताया कि स्टीफन, देखो, रनवे के किनारे पर तो अनाज है, क्योंकि चीनी जनता को खाने का सवाल सुलझाना है। उस समय से अब तक मैं ने 200 से अधिक बार चीन की यात्रा की ।हर बार मुझे चीन के विकास पर हैरानी हुई ।चीन एक भोगवादी समाज के बजाये एक स्थिर समाज में दिखाई देता है ।चीन विभिन्न देशों और विभिन्न देशों की जनता के बीच सुरक्षा और स्थिरता में संलग्न है ।इन सबसे चीन विश्व में अग्रसर रहेगा ।(वेइतुंग)

लोकप्रिय कार्यक्रम
रेडियो प्रोग्राम
रेडियो_fororder_banner-270x270